Green Tea Benefits – ग्रीन टी पीने के फायदे

ग्रीन टी लोग स्वास्थ्य का पर्यायवाची मान चुके हैं और युवाओं में इसे काफी लोकप्रिय माना जाता है, जो इसके एकाधिक फायदों, Antioxidant और Polyphenols की बड़ी मात्रा के कारण है, ये ऐसे compounds हैं जो Green Tea को हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए सहायक बनाते हैं।

यह पेय हमारी Immune system को स्वस्थ और मजबूत रखते हुए हमें खतरनाक Free radicals से लड़ने में मदद करता है। जो हमारी उम्र बढ़ने में तेजी लाते हैं और कैंसर और अन्य गंभीर बीमारियों के विकास की आशंका को बढ़ाते हैं। शरीर स्वाभाविक रूप से Antioxidant  का उत्पादन करता है, लेकिन यह उन सभी चीजों के लिए पर्याप्त नहीं है, जिससे हम अवगत नहीं होते हैं, इसलिए ज्यादा बचाव की आवश्यकतानुसार Green Tea इन सब के लिए यह एक बहुत अच्छा पेय है जो अगर सही तरीके से लिया जाए।

हरी चाय पीने के फायेदे – Benefits of Green Tea In Hindi

यदि Green Tea का सही तरीके से सेवन किया जाये तो ये हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक पेय साबित हो सकता है। यहाँ जानिए  ग्रीन टी पीने से आप को क्या मुख्य लाभ हो सकते हैं।

1. कैंसर होने के खतरे को कम करना

कई अध्ययनों में पता चला है कि नियमित Green Tea का सेवन कैंसर की संभावना को कम करता है, कुछ शोध यह बताते हैं कि जो लोग हर दिन इसका इस्तेमाल करते हैं उनमें कैंसर की दर बहुत कम होती है, मुकाबले उन लोगों के जो इसका सेवन नहीं करते।

क्योंकि यह अभी तक यह स्पष्ट नहीं है इसलिए इसका कारण इसमें बड़ी मात्रा में मौजूद  Antioxidant और Polyphenols हो सकता है, यह Compounds free radicals के निर्माण को रोकने में मदद करता है जो शरीर में हमारी स्वस्थ कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं।

2. हृदय रोग को रोकने में मदद करता करना

Green Tea के बहुत से फायदों में से एक यह भी है कि यह रक्त में खराब Cholesterol के स्तर को regulate करती है Blood vessels में बहने से रोकने में मदद करती है, इसलिए यह माना जाता है कि Green Tea cardiac risk और दिल से संबंधित समस्याओं को कम करने में मदद करती है।

Green Tea, Blood vessels के स्तर पर काम करती है, जिससे आपको Blood pressure में आराम मिलती है। यह थक्के (cots) की रक्षा करने में भी मदद करती है, जो दिल के दौरे का मुख्य कारण हैं।

3. उम्र बढ़ने से लड़ने में मदद करता है

झुर्रियों का आना और उम्र बढ़ना Natural है जिससे हम नहीं बच सकते लेकिन हम उनकी उपस्थिति में देरी कर सकते हैं। Green Tea को Eternal youth drink के रूप में जाना जाता है, इसमें मौजूद Powerful Antioxidant और Anti-inflammatory के गुण उम्र बढ़ने और झुर्रियों को रोकने में मदद करते हैं, और त्वचा पर इसका इस्तेमाल सूरज से होने वाले नुकसान को कम करने में मदद कर सकता है।

4. दिमाग को चुस्त रखने में

Green tea आप को सचेत रखने के साथ दिमाग को चुस्त रखने में मदद कर सकती है, इसमें मौजूद कैफीन जो की काफी (Coffee) जितना नहीं होती, लेकिन मस्तिष्क पर इसके कई सकारात्मक प्रभाव होते हैं। यह सतर्कता को बढ़ा सकती है, एकाग्रता में मदद कर सकती है, मूड में सुधार और Depression को कम कर सकती है।

5. Green Tea मेटाबॉलिज्म को तेज करती है और आपको वजन कम करने में मदद करती है

कई जांच में यह पाया गया है कि Green Tea की Fat-oxidizing Power  ना सिर्फ वजन कम करने बल्कि Metabolism को प्रोत्साहित करने में मदद करती है, जो Cardioprotective और एक Powerful natural diuretic के रूप में काम  करके कैलोरी को जलाने की क्षमता में सुधार करती है। जो कि हमें वजन कम करने में  सहायता करती है, इसे आप अपने आहार में बदलाव करके व्यायाम के साथ ले सकते हैं।

पढ़ें: Weight Loss Tips – वजन कम करने के बेहद कारगर उपाय

6. मुंह की बदबू कम हो सकती है

हमारे मुंह में Streptococcus mutans नाम से एक प्रकार का बैक्टीरिया होता है जिसकी वजह से हमारे दांतों पर टार्टर और प्लाक (tartar and plaque) बनने लगता है जो बाद में दांतों में छेद (Tooth Cavities) और सड़न (Tooth Decay) का कारण बनता है।

Test-tube अध्ययन बताते हैं Green tea में मौजूद कैटेचिन बैक्टीरिया के विकास को कम करके, संभावित संक्रमण के खतरे, ख़राब सांस और मुहं की बदबू को कम कर सकती है। 

7. टाइप 2 डायबिटीज को रोकने में मदद कर सकता है

हाल के दशकों में टाइप 2 डायबिटीज की दरें बढ़ी हैं और यह दर भारत में पिछले कुछ सालों में यह सबसे अधिक है, जो की ग्रामीण आबादी में 2.4% और शहरी आबादी में 11.6% है। 

टाइप 2 डायबिटीस में blood sugar का level बढ़ जाता है जो Insulin प्रतिरोध या Insulin के उत्पादन में असमर्थता के कारण हो सकता है, अध्यन बताते हैं Green Tea Insulin sensitivity में सुधार और blood sugar levels को कम कर सकती है । 

ग्रीन टी पिने का सही समय – Best Time To Take Green Tea

ज्यादातर Nutritionist सुबह नाश्ते और दोपहर लंच के आधे घंटे बाद ग्रीन टी लेने की सलाह देते हैं, अगर आप workout करते हैं तो workout से 30-60 मिनट पहले या बाद में आप कभी भी ग्रीन टी ले सकते हैं।

याद रहे आप को खाली पेट और खाने के तुरंत बाद ग्रीन टी नहीं लेनी है, ऐसा करने से Acidity हो सकती है, रात को इसका सेवन करने से बचें और कोई भी medicine लेने के तुरंत बाद इसका सेवन बिलकुल न करें।

ग्रीन टी बनाने की विधि – How to Prepare Green Tea in Hindi

ग्रीन टी बनाना बहुत आसान है, जिसे कुछ सामग्री के साथ आसानी से तैयार किया जा सकता है, नीचे 2 तरह की ग्रीन टी बनाने की विधि दी गई है।

1. पत्ते वाली ग्रीन-टी बनाने की विधि

सामग्री: एक चम्मच ग्रीन-टी के पत्ते, सॉस पैन (या कोई और बर्तन जिसमे आप चाय बनाते हैं) चाय की छन्नी और एक कप पानी।

बनाने की विधि:

  • सबसे पहले आप चाय के बर्तन में एक कप पानी के साथ एक चम्मच ग्रीन-टी के पत्तों को 2 मिनट तक गर्म कर लेंगे
  • अब चाय की छन्नी का इस्तेमाल कर गर्म पानी को छान लें।
  • अब इसमें आप 1 छोटा चम्मच शहद भी मिला सकते हैं।
  • इस तरह तैयार है आप की पत्ते बलि ग्रीन टी।

2. टी बैग वाली ग्रीन-टी बनाने की विधि

सामग्री: एक ग्रीन-टी बैग, एक छोटा चम्मच शहद और एक कप गर्म पानी।

बनाने की विधि:

  • सबसे पहले एक कप गर्म पानी लें।
  • इसमें ग्रीन-टी के बैग को 1-2 मिनट के लिए भिगोएं।समय पूरा होने पर टी बैग को निकाल दें।
  • अब स्वाद के लिए एक छोटा चम्मच शहद मिलाकर सेवन कर सकते हैं।

उपर दिए गए संभावित लाभों के आधार पर, Green Tea को  आप बेहतर महसूस करने, वजन कम बढती उम्र से लड़ने, हर्दय रोग और और पुरानी बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद करने के लिए अपने जीवन का नियमित हिस्सा बनाने पर विचार कर सकते हैं।

Default image
Health Conscious

Leave a Reply